फटी एड़ियों से छुटकारा पाने के लिए घरेलू उपाय (Home Remedies for Cracked Heel in Hindi)

दोस्तों rahultechnoweb पर आपका तहे दिल से अभिनंदन हैं इस पेज पर आप लोगों को फटी एड़ियों से छुटकारा पाने के उपाय को विस्तार से पढ़कर आप अपनी फटी एडियां को दूर कर सकते हैं।
आज के समय में एड़ी का फटना एक बड़ी समस्या बन गयी है लोग ना जाने कौन कौन माध्यमों से फटी एड़ियों से छुटकारा पाने का तरीका बता रहे हैं लेकिन उससे आपको कोई फायदा नही हो रहा है  और नुकसान ज्यादा से ज्यादा  हो रहा  है कुछ लोग तो केवल पैसे कमाने के लिए  फटी एड़ियों को दूर करने  की दवाइयाँ बेंच रहे हैं ।  जिनका कोई फायदा नहीं हो रहा है ।
और हा हम इस पोस्ट में वैसा नहीं बताएंगे , हम इस पोस्ट में आपको कुछ जबरदस्त नुक्से बताने वाले हैं ।
जो आपको फायदा को छुड़ाय नुकसान नही होगा।
नीचे दिये गये तरीको से फटी एड़ियों से छुटकारा पा सकते हैं ,इन तरीको का इस्तेमाल रोजाना करके फटी एड़ियों से छुटकारा पा सकते हैं  यदि इन तरीको का इस्तेमाल अच्छे से किया तो आपकी फटी एड़ियों से छुटकारा अवश्य पा सकते हैं ।
फटी एड़ियां एक आम स्वास्थ्य समस्या हैं जो बहुत से लोगों को प्रभावित करती हैं। यह एक सामान्य समस्या है जो व्यक्ति के पांव की त्वचा में फटने की स्थिति होती है। फटी एड़ियों के कई कारण हो सकते हैं जैसे कि लंबे समय तक दिखाई जाने वाले जूते पहनना, अधिक वजन, त्वचा के रूपांतरण के कारण आदि।
फटी एड़ियों से छुटकारा पाने के लिए घरेलू उपाय (Home Remedies for Cracked Heel in Hindi)
इस समस्या को ठीक करने के लिए कुछ उपाय हो सकते हैं जैसे कि नरम और आरामदायक जूते पहनना, पांवों की मालिश करना, पांवों को गर्म पानी में भिगोना, सही तरीके से मॉइस्चराइजर का उपयोग करना, सही तरीके से पेटीक्योर करना आदि। यदि फटी एड़ियां बहुत गंभीर होती हैं तो डॉक्टर से सलाह लेना चाहिए जो आपको सही उपचार की सलाह देंगे।

    एड़ियां फटने का कारण (reason for cracked heels in hindi)

    एड़ियों का फटना कई कारणों से हो सकता है। यहाँ कुछ संभवित कारण बताए गए हैं:
    1.गलत जूते पहनना: अगर आप बर्तन या नापसंद कपड़ों के साथ जूते पहनते हैं तो आपके एड़ियों पर दबाव पड़ता है, जो उन्हें फटने के लिए संतुलित नहीं रखता।
    2.भारी वजन उठाना: बार-बार भारी वजन उठाने से एड़ियों के माध्यम से दबाव पड़ता है जो उन्हें फटने के लिए कमजोर बना देता है।
    3.पैरों के आकार में वृद्धि: जब हम वयस्क होते हैं तो हमारे पैरों के आकार में वृद्धि होती है जो एड़ियों को फटने के लिए अधिक विकसित बनाता है।

    4.एड़ी के नीचे घाव होना: कभी-कभी एड़ियों के नीचे घाव होने से एड़ियों में छेद हो जाता है जो फटने के लिए उन्हें अधिक संवेदनशील बनाता है।

    5.डायबिटीज: डायबिटीज रोगी में पैरों की त्वचा सूखी और कठोर हो जाती है, जो उन्हें फटने के लिए अधिक संवेदनशील बनाता है

    एड़ियां फटना क्या है (what is cracked heels in hindi)

    एड़ियों के फटने को आम तौर पर “फटी एड़ियां” कहा जाता है। यह एक आम समस्या है जो एक व्यक्ति को अनुचित जूते पहनने, लंबे समय तक चलने या भारी वजन उठाने के कारण हो सकती है। एड़ियों के नीचे की त्वचा खराब होने के कारण उनमें फटी आ जाती है और इससे दर्द भी होता है। 
    फटी एड़ियों से छुटकारा पाने के लिए घरेलू उपाय (Home Remedies for Cracked Heel in Hindi)
    एड़ियों के फटने को दूर करने के लिए उपचार के लिए व्यक्ति को अपनी जीवनशैली में कुछ बदलाव करने की आवश्यकता होती है। इसमें शामिल हैं उच्च गुणवत्ता वाले जूते पहनना, एड़ियों की देखभाल और उपयुक्त एड़ियों के पहनने के समय ध्यान रखना। अधिक गंभीर मामलों में, डॉक्टर द्वारा उपचार भी किया जा सकता है।

     फटी एड़ियों के इलाज के लिए घरेलू उपाय (Home Remedies for Cracked Heel in Hindi)

    #1.फटी एड़ियों के लिए सोडियम से इलाज (sodium treatment for cracked heels in hindi)

    फटी एड़ियों के लिए सोडियम एक उपयुक्त इलाज नहीं है। सोडियम का उपयोग त्वचा को सूखा और खराब कर सकता है, जो एड़ियों के लिए अत्यंत हानिकारक हो सकता है। फटी एड़ियों को इलाज करने के लिए, आपको अपनी आहार व्यवस्था में सुधार करना चाहिए।
    आपको पूर्ण फल और सब्जियों, दूध उत्पादों और खाद्य पदार्थों में विटामिन ई, सी और ए की अधिक मात्रा मिलनी चाहिए। इसके अलावा, आपको अपनी एड़ियों को समय-समय पर मुलायम करने के लिए नरम चप्पल पहनना चाहिए।
    अगर आपके एड़ियों में इंफेक्शन हो जाता है, तो आप एक चिकित्सक से परामर्श करना चाहिए। वे आपको उचित दवाओं और इलाज की सलाह देंगे जो आपकी स्थिति के अनुसार उपयुक्त होंगे।

    #2.फटी एड़ियों के लिए वैसलींन का इस्तेमाल (Use of Vaseline for cracked heels in hindi)

    फटी एड़ियों के लिए वैसलीन का इस्तेमाल करना एक अच्छा विकल्प हो सकता है। वैसलीन में मौजूद तेल से एड़ियों को नमी मिलती है, जिससे ये मुलायम और चिकनी हो जाती हैं। वैसलीन में मौजूद तरल पदार्थ एड़ियों को मुलायम बनाने में मदद करता है, जो उन्हें दुखने से बचाता है।
    एड़ियों को मुलायम बनाने के लिए, सबसे पहले अपने पैरों को गर्म पानी में धो लें और फिर उन्हें सुखा लें। अब एक छोटी मात्रा में वैसलीन लें और अपनी एड़ियों पर इसे लगाएं। इसे सही तरीके से मसाज करें, ताकि वैसलीन अच्छी तरह से अवशोषित हो सके। इसे रात को सोते समय भी लगाएं ताकि वैसलीन एड़ियों में अच्छी तरह से अवशोषित हो सके।
    वैसलीन का उपयोग फटी एड़ियों को मुलायम बनाने के साथ-साथ उन्हें नरम और सुंदर बनाने में भी मदद कर सकता है। हालांकि, अगर आपके पैरों में कोई संक्रमण हो तो आपको अपने चिकित्सक से परामर्श लेना चाहिए ।

    #3.फटी एड़ियों के लिए ग्लिसरीन का इस्तेमाल (Use of glycerin for cracked heels in hindi)

    फटी एड़ियों के लिए ग्लिसरीन एक अच्छी मूल्य उपचार हो सकता है। ग्लिसरीन एक मूल्यवान आयुर्वेदिक औषधि है जो त्वचा को मुलायम बनाने में मदद करती है। इसके अलावा, यह त्वचा को मोटापा दूर करने में भी मदद करता है जो फटी एड़ियों को कम करने में मदद कर सकता है।
    ग्लिसरीन को एक मल्टी-फंक्शनल हाइड्रेटिंग एजेंट के रूप में भी जाना जाता है, जो त्वचा की सुषमता को बढ़ाता है। इससे त्वचा के पास पर्याप्त नमी बनी रहती है, जो त्वचा को नरम, चमकीला और सुंदर बनाए रखती है।
    फटी एड़ियों के लिए, आप एक ग्लिसरीन फुट सोक में अपने पैर भिगो दें या एक ग्लिसरीन क्रीम का इस्तेमाल कर सकते हैं। आप इसे अपने पैरों पर लगाकर रात में सो सकते हैं और सुबह उन्हें गुलाबी पानी से धो सकते हैं। यह आपके पैरों को नरम और चिकना बनाने में मदद करेगा।

    #4.फटी एड़ियों के लिए गुलाब के पानी का इस्तेमाल (use of rose water for cracked heels in hindi)

    फटी एड़ियों के लिए गुलाब के पानी का इस्तेमाल किया जाता है क्योंकि इसमें मौजूद गुलाब के फूलों में मौजूद एंटीऑक्सीडेंट गुण होते हैं जो त्वचा को नरम और सुंदर बनाने में मदद करते हैं। गुलाब के पानी में विटामिन सी, विटामिन ए और विटामिन ई के साथ-साथ फ्लावोनॉइड और टैनिन भी होते हैं, जो त्वचा को स्वस्थ रखने में मदद करते हैं।
    गुलाब के पानी के इस्तेमाल के लिए, आप गुलाब के फूलों को ढक कर उबलते पानी में डाल सकते हैं और इसे 15-20 मिनट तक उबालने दे सकते हैं। उबलते पानी को ठंडा होने दें और फिर इसे छान लें। इस प्रक्रिया के बाद, गुलाब का पानी एक कप गर्म पानी में मिलाकर फटी एड़ियों पर लगाएं और इसे सुखने दें। इसे दिन में 2-3 बार दोहराएं।
    गुलाब के पानी का इस्तेमाल करने से पहले, आपको अपनी एड़ियों को गर्म पानी में धोने के बाद अच्छी तरह से सुखा लेना चाहिए। 

    #5. फटी एड़ियों के लिए करे चावल का इस्तेमाल (use rice for cracked heels in hindi)

    फटी एड़ियों के लिए चावल का इस्तेमाल किया जा सकता है क्योंकि चावल में पाया जाने वाला एक प्राकृतिक उपचार है जो एड़ियों के लिए उपयोगी हो सकता है। चावल फटी एड़ियों के उपचार में उपयोग किया जाता है क्योंकि यह मूलतः एक शुष्क करके दूसरे स्रोत है, जिससे एड़ियों को सुखाने और संचारित करने में मदद मिलती है।
    फटी एड़ियों से छुटकारा पाने के लिए घरेलू उपाय (Home Remedies for Cracked Heel in Hindi)
    आप इसे इस तरह से कर सकते हैं।
    1.चावल के एक बड़े बर्तन में उबाल लें।
    2.जब चावल उबलने लग जाए, उसे छान लें और ठंडा कर लें।
    3.अब एड़ियों को पानी में डालें और उन्हें 15-20 मिनट तक इसमें भिगोने दें।
    4.उन्हें उतारकर धूप में सुखाने दें।
    चावल के इस्तेमाल से एड़ियों के घाव और खरोंच कम होते हैं और उन्हें आराम मिलता है। यह एक प्राकृतिक उपाय होता है जो फटी एड़ियों के लिए संभवतः सबसे सस्ता और सबसे प्रभावी हो सकता है।

    #6.फटी एड़ियों के लिए करे शहद का इस्तेमाल (Use honey for cracked heels in hindi)

    फटी एड़ियों के लिए शहद एक अच्छा घरेलू उपचार है। शहद में एंटीबैक्टीरियल गुण होते हैं जो एड़ियों के संक्रमण से लड़ने में मदद कर सकते हैं। इसके अलावा शहद एड़ियों की त्वचा को मुलायम और नरम बनाने में भी मदद करता है।
    शहद का उपयोग करने के लिए, पहले अपने पैरों को साफ़ पानी से धो लें। फिर शहद को अपनी फटी एड़ियों पर लगाएं और इसे एक से दो मिनट तक अपनी एड़ियों पर रगड़ें। अधिकतम फायदा प्राप्त करने के लिए, इसे रात में सोते समय लगाएं और सुबह को नहाएं।
    आप शहद के साथ थोड़ा सा नींबू रस भी मिला सकते हैं, क्योंकि नींबू में विटामिन सी होता है जो आपकी एड़ियों को सुगंधित बनाने में मदद कर सकता है और एड़ियों की त्वचा को और भी नरम बनाता है।
    फटी एड़ियों से छुटकारा पाने के लिए घरेलू उपाय (Home Remedies for Cracked Heel in Hindi)
    ध्यान रखें कि फटी एड़ियों की समस्या गंभीर हो सकती है, इसलिए यदि यह समस्या बढ़ती दिखती है ।

    #7.फटी एड़ियों के लिए करे नारियल का इस्तेमाल (Use coconut for cracked heels in hindi)

    फटी एड़ियों के लिए नारियल का इस्तेमाल करना एक आसान और प्रभावी उपाय है। नारियल में मौजूद तेल और वसा मददगार होते हैं जो त्वचा को नर्म बनाने में मदद करते हैं। नारियल के उपयोग से एड़ियों की खुशकी को कम किया जा सकता है, जो एड़ियों को नर्म, सुंदर और स्वस्थ बनाने में मदद करता है।
    इसके लिए निम्नलिखित चरणों का पालन करें:
    1.एक बड़े नारियल को छोटे टुकड़ों में काट लें।
    2.एक छोटे बर्तन में गर्म पानी लें और इसमें नारियल के टुकड़े डालें।
    3.नारियल को 10-15 मिनट के लिए गरम पानी में भिगोएं।
    4.अब नारियल के टुकड़ों को निकालकर उन्हें अलग रखें।
    5.अब नारियल के टुकड़ों का मलाई एड़ियों पर लगाएं और उसे अच्छी तरह से मालिश करें।
    6.अब अपनी एड़ियों को एक गर्म तौलिये से ढंककर 20-30 मिनट तक रखें।
    फटी एड़ियों से छुटकारा पाने के लिए घरेलू उपाय (Home Remedies for Cracked Heel in Hindi)
    7.अपने पैरों को गर्म पानी से धो लें और सूखा लें।

    #8.फटी एड़ियों के लिए करे मोम से इलाज (wax treatment for cracked heels in hindi)

    फटी एड़ियों को मोम से इलाज करने के लिए निम्नलिखित चरणों का पालन करें:
    1.सबसे पहले, एक बर्तन में दूध गर्म करें और उसमें मोम घोलें। मोम की मात्रा अपने आकार और एड़ियों की फटने के आधार पर निर्धारित की जानी चाहिए।
    2.उस घोले को ठंडा होने दें ताकि आप अपनी एड़ियों को नहीं जलाएं।
    3.अब, अपनी फटी हुई एड़ियों को पानी से धो लें और सुखा लें।
    4.एक बार जब घोल ठंडा हो जाए, तो अपनी एड़ियों को उसमें डालें।
    5.अपनी एड़ियों को गुदगुदाते हुए उस घोल में 10-15 मिनट तक रखें।
    6.फिर अपनी एड़ियों को निकालें और उन्हें सुखा लें।
    7.अपनी एड़ियों पर सूखे बैंडेज को बांध लें।
    8.इस प्रक्रिया को हर दिन दोहराएं, जब तक आपकी एड़ियों की फटने कम न हो जाए।
    फटी एड़ियों से छुटकारा पाने के लिए घरेलू उपाय (Home Remedies for Cracked Heel in Hindi)
    इस तरह से, मोम से इलाज करने से आपकी एड़ियों की फटने की समस्या का समाधान होगा। यदि समस्या बरकरार रहती है, तो कृपया अपने चिकित्सक से संपर्क करें ।

    #9.फटी एड़ियों के लिए करे सरसो के तेल से इलाज (Treat cracked heels with mustard oil in hindi)

    फटी एड़ियों के लिए सरसों के तेल का इलाज एक प्रभावी और सस्ता तरीका है। यह एक प्राकृतिक उपाय है जो आपके पैरों को मुलायम और चिकना बनाता है और फटी एड़ियों को ठीक करता है। निम्नलिखित हैं कुछ चरण जिन्हें आपको अपनाने की आवश्यकता होगी:
    1.सबसे पहले, अपने पैरों को धो लें और पूरी तरह से सुखा लें।
    2.अब, सरसों के तेल को अपने हाथों में गर्म करें। आप इसे उबलते पानी के ऊपर रखकर भी गर्म कर सकते हैं।
    3.तेल को अपने पैरों पर लगाएं और मसाज करें। आप अपने पैरों के ऊपर से नीचे की ओर मसाज कर सकते हैं। धीरे-धीरे तेल को अपनी एड़ियों तक पहुंचाएं।
    फटी एड़ियों से छुटकारा पाने के लिए घरेलू उपाय (Home Remedies for Cracked Heel in Hindi)
    4.तेल को अपनी एड़ियों पर लगाने के बाद, आपको उन्हें घेरने के लिए एक पेपर टेप लगा सकते हैं। यह आपके पैरों को ठीक से सुखा नहीं निकलने देगा और तेल को अधिक समय अपने एड़ियों पर रखेगा।
    5.इसे पूरी रात लगाएं और सुबह उठकर उसे धो लें।

    #10.फटी एड़ियों के लिए करे पैराफिन वैक्स का इस्तेमाल (Use paraffin wax for cracked heels in hindi)

    फटी एड़ियों के लिए पैराफिन वैक्स एक अच्छा विकल्प हो सकता है। यह एक आसान और सस्ता तरीका होता है जो घर पर ही किया जा सकता है। निम्नलिखित चरणों का पालन करें:
    1.सबसे पहले, पैराफिन वैक्स को एक बर्तन में डालें और उसे मध्यम आंच पर गरम करें। वैक्स को पूरी तरह से पिघलने तक गरम करें।
    2.अब, एक निर्मित पेड़ से वैक्स को थोड़ी देर के लिए ठंडा होने दें। जब तक वैक्स ठंडा नहीं होता है, आप अपने पैरों को गर्म पानी में भिगो सकते हैं। यह सुनिश्चित करेगा कि आपके पैर साफ हों और वैक्स आसानी से लगे।
    3.वैक्स को अपने पैरों पर लगाएं। इसके लिए, आप एक बड़े पेपर या फिर कुछ और प्रकार के स्क्रैपर का उपयोग कर सकते हैं। वैक्स को तना होने तक अपने पैरों पर लगाएं।
    4.जब वैक्स ठंडा हो जाएगा, तब आप अपने पैरों पर लगाए हुए वैक्स को उठा सकते हैं। आपके पैरों की फटी एड़ियों से वैक्स निकाल जाएगा।

    #11. फटी एड़ियों के लिए नीम का इस्तेमाल (Use of neem for cracked heels in hindi)

    नीम एक प्राकृतिक उपचार है जो एड़ियों के फटने से निपटने में मदद कर सकता है। नीम के पत्तों और तेल में मौजूद एंटीबैक्टीरियल गुण एड़ियों को सुरक्षित रखने में मदद करते हैं और संक्रमण से रोकते हैं।
    एक सरल तरीका फटी एड़ियों के लिए नीम का इस्तेमाल करने का है। आप नीम के पत्तों को पानी में उबाल सकते हैं और फिर इस उबले पानी में अपने पैरों को रख सकते हैं। नीम के पत्तों को भी खारिश वाले त्वचा के लिए उपयोग किया जा सकता है। नीम के तेल को सीधे एड़ियों पर लगाया जा सकता है या फिर आप एक नीम का तेल वाला मालिश भी कर सकते हैं।
    फटी एड़ियों से छुटकारा पाने के लिए घरेलू उपाय (Home Remedies for Cracked Heel in Hindi)
    नीम के इस्तेमाल से पहले, आपको एक चिकित्सक से परामर्श लेना चाहिए यदि आपकी एड़ियों में ज्यादा खारिश होती है या आपको एक संक्रमण हो सकता है।

    #12.फटी एड़ियों के लिए पेट्रोलियम का इस्तेमाल (use of petroleum for cracked heels in hindi)

    फटी एड़ियों के लिए पेट्रोलियम एक उपयुक्त उपाय हो सकता है। अधिकतर लोग फटी एड़ियों के लिए एक पेडिक्योर या डॉक्टर के पास जाते हैं, लेकिन पेट्रोलियम एक सस्ता विकल्प हो सकता है जो एक व्यक्ति अपने घर पर आसानी से इस्तेमाल कर सकता है।
    फटी एड़ियों के लिए पेट्रोलियम का इस्तेमाल करने के लिए, सबसे पहले एक कच्चे और स्वच्छ तौलिये को पेट्रोलियम में भिगो दें। फिर उसे धीरे-धीरे फटी एड़ियों के चारों ओर मलिश करें। ध्यान रखें कि आपको उत्तेजित या चोट लगने वाली गति से मलिश नहीं करनी चाहिए। आपको धीरे-धीरे और हल्के हाथों से मलिश करनी चाहिए।
    एक बार जब आप मलिश करने के बाद अपनी एड़ियों को साफ़ पानी से धो लें, और अच्छी तरह से सुखा दें। आप इसे हर दिन कर सकते हैं।
    यह ध्यान रखना महत्वपूर्ण है कि फटी एड़ियों के लिए पेट्रोलियम का इस्तेमाल करने से पहले, आपको अपने डॉक्टर से परामर्श करना चाहिए। 

    #13.फटी एड़ियों के लिए नींबू का इस्तेमाल (Use of lemon for cracked heels in hindi)

    नींबू एक प्राकृतिक घरेलू उपाय है जो फटी एड़ियों के इलाज में मददगार हो सकता है। नींबू में प्राकृतिक तरीके से पाए जाने वाले एंटीऑक्सीडेंट, विटामिन सी और अन्य पोषक तत्व होते हैं जो त्वचा को स्वस्थ रखने में मदद कर सकते हैं। फटी एड़ियों के लिए, नीचे दिए गए तरीके का इस्तेमाल करें:
    एक बड़ा नींबू को आधे घंटे तक गर्म पानी में डालकर रखें। फिर नींबू को अपने एड़ियों पर मलें। इसे लगभग 15-20 मिनट तक रखें और फिर ठंडे पानी से धो लें। इसे रोजाना करने से फटी एड़ियां ठीक हो सकती हैं।
    फटी एड़ियों से छुटकारा पाने के लिए घरेलू उपाय (Home Remedies for Cracked Heel in Hindi)
    एक छोटा नींबू ले और इसे दो भागों में काटें। एक भाग को अपने एड़ियों पर रगड़ें और उसे लगभग 10 मिनट तक रखें। फिर अपने एड़ियों को ठंडे पानी से धो लें। इसे हफ्ते में दो बार करने से फटी एड़ियां ठीक हो सकती हैं।

    फटी एड़ियों के दौरान आपका खान पान (Your food and drink during cracked heels in hindi)

    फटी एड़ियों के दौरान आपका खान पान काफी महत्वपूर्ण होता है। क्योंकि फटी एड़ियों से संबंधित समस्याएं आमतौर पर वजन बढ़ने, गंभीर रोगों का सामना करने और वातावरण में अपच उत्पन्न होने के कारण होती हैं।
    फटी एड़ियों के दौरान आपको निम्नलिखित खाद्य पदार्थों का सेवन करना चाहिए:
    1.पौष्टिक आहार, जैसे फल, सब्जियां, अनाज और दालें।
    2.पर्याप्त मात्रा में पानी और अन्य तरल पदार्थों का सेवन करें, जैसे नींबू पानी, नारियल पानी, नारियल तेल आदि।
    3.विटामिन सी से भरपूर आहार जैसे संतरा, नींबू, अमरूद, ग्वावा आदि।
    4.प्रतिदिन कम से कम एक गिलास दूध या दूध से बनी चीजें।
    5.अधिक से अधिक फाइबर वाले आहार जैसे ब्राउन चावल, ओट्स, सब्जियां, फल आदि।

    फटी एड़ियों के समस्या मे आपकी जीवन शैली (Your lifestyle in the problem of cracked heels in hindi)

    अगर मैं फटी एड़ियों के लिए संभवतः कारणों को समझता हूं, तो मैं अपने जीवन शैली में उन समस्याओं को कम करने के लिए कुछ बदलाव कर सकता हूं।
    फटी एड़ियों के कुछ सामान्य कारण हो सकते हैं जैसे अधिक वजन, उच्च रक्तचाप, बीमारियां जैसे डायबिटीज या थायरोइड इत्यादि। इसलिए, मैं अपने आहार और व्यायाम के पैटर्न को संशोधित कर सकता हूं ताकि मैं अपने वजन को नियंत्रित कर सकूं और उच्च रक्तचाप या अन्य बीमारियों से बच सकूं।
    मैं एक नियमित व्यायाम कार्यक्रम बनाकर अपनी शारीरिक गतिविधियों को बढ़ा सकता हूं। इसके अलावा, मैं अपने पैरों को ठंडे पानी में रगड़ने या नारियल के तेल से मालिश करने जैसे नुस्खों का उपयोग कर सकता हूं जो मेरी फटी एड़ियों को ठीक करने में मदद करेंगे।

    फटी एड़ियों के दौरान परहेज (Avoidance During Cracked Heels in hindi)

    फटी एड़ियों के दौरान निम्नलिखित परहेज आपकी मदद कर सकते हैं:
    1.एड़ियों को साफ और सूखे रखें: फटी एड़ियों को साफ़ और सूखे रखने से इनकी समस्या को कम किया जा सकता है। नमी या गीलापन वाले जूते पहनने से बचें।
    2.सही जूते पहनें: एड़ियों को ठीक से सपोर्ट करने वाले जूते पहनें। उच्च टाँगे वाले जूते या पुराने जूते न पहनें, जो अपनी शक्ति खो दें।
    3.सही आकार के जूते चुनें: अपनी एड़ियों के आकार के हिसाब से जूते चुनें। अगर आपके जूते आपके एड़ियों के न तो बहुत चौड़े और न ही बहुत पतले होते हैं तो इससे आपके एड़ियों पर जोर डालने पर वह फट सकते हैं।

    4.एड़ियों को ढककर रखें: जब भी आप बैठें, तो अपनी एड़ियों को ढककर बैठें। यह आपकी एड़ियों को फैलने से बचाएगा।

    5.अपने वजन को नियंत्रित करें: अतिरिक्त वजन से एड़ियों पर अधिक दबाव पड़ता है। 

    निष्कर्ष(Conclusion)

    तो दोस्तों या था आज का पोस्ट जिसमे आपको मैंने बताया की फटी एड़ियों से छुटकारा पाने के लिए कौन कौन से नुक्सा अपनाना चाहिए । और मुझे पूरा उम्मीद है कि आपको ये जानकारी बहोत पसंद आयी होगी । और अगर आपका कोई सवाल है तो आप comment करके पूछ सकते है, मैं आपकी पूरी सहायता(help) करने की कोशिश करूँगा।
    और आप लोग ये बताये की आप लोगो को इनमे से कौन सा नुक्सा आपको बहोत पसंद आया ।
    और फटी एड़ियों से छुटकारा पाने के लिए आप  लोगों को ये जानकारी कैसी लगी अगर अच्छी लगी हो तो आप ये भी comment करके बता सकते है और साथ ही साथ आप इस आर्टिकल या पोस्ट को शेयर भी जरूर करे।
                                

                                धन्यवाद

     

    Leave a Comment